सरकार बनाम ट्विटर

ट्विटर ने 27 मई को सरकार के खिलाफ एक बयान जारी किया था, जिसमें उसने टूलकिट विवाद में अपनी चुप्पी तोड़ी है। दिल्ली पुलिस ने भी ट्विटर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कहा कि ‘टूलकिट’ मामले में चल रही जांच पर ट्विटर का बयान झूठा है और यह कानूनी जांच में बाधा का प्रयास है। दिल्ली पुलिस का यह सख्त बयान ऐसे वक्त में आया है जब ट्विटर ने पुलिस पर डराने-धमकाने की रणनीति के इस्तेमाल करने रका आरोप लगाया था। ट्विटर इस बयान पर दिल्ली पुलिस और सरकार ने कड़ा ऐतराज जताया और ट्विटर के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। भारत में अपने कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताने वाले ट्विटर के बयान पर केंद्र सरकार ने पलटवार किया है।भारत सरकार ने ट्विटर के बयान की जमकर निंदा की है और कहा है कि ये दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को बदनाम करने की कोशिश है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Whatsapp