CBSE की आंतरिक परीक्षा से चुके छात्रों को मिली राहत

CBSE ने 12वीं परिणामों को लेकर तैयार किए गए नए फॉर्मूले में छात्रों को राहत प्रदान की है।
बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि जो छात्र किसी कारणवश परीक्षा देने से ही वंचित रह गए उनसे स्कूल अब परीक्षा नहीं ले सकेंगे। बोर्ड ऐसे छात्रों का परिणाम 10वीं, 11वीं  और 12वीं में बहुविक्ल्पीय रूप से प्रदर्शन की जानकारी जुटा परिणाम तैयार करेगा। इसका अधिक लाभ उन छात्रों को होगा जो कोरोना संक्रमण के चपेट में आने की वजह से परीक्षा नहीं दे सके थे।

बोर्ड ने नए फॉर्मूले के तहत दिव्यांगजनों को भी राहत प्रदान की है। ऐसे छात्रों को भी स्कूल में आंतरिक परीक्षाएं देने की जरूरत नहीं है और न ही स्कूल उन्हें परीक्षा लेने के लिए बुला सकते हैं। इन छात्रों का भी मूल्यांकन उनके पिछली तीन कक्षाओं के बहुविकल्पीय प्रदर्शन के आधार पर किया जाएगा। 

सीबीएसई ने स्कूलों को स्पष्ट किया है कि आंतरिक मूल्यांकन के बाद दिए गए अंकों को ध्यान से जांचा जाए। क्योंकि, स्कूल की ओर से एक बार अपलोड कर दिए गए अंकों को ही अंतिम माना जाएगा। इसके बाद गलत अंक अपलोड करने या फिर संशोधन को लेकर किए जाने वाले अनुरोध को स्वीकार नहीं किया जाएगा। केवल एक बार ही अंकों को अपलोड करने का विकल्प मौजूद रहेगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Whatsapp