CrimeFeaturedHindiVadodara News

पुलिस वालों ने ही शख्स को मारकर शव को लगाया ठिकाने!!!

07 July Vadodara : 7 महीने पहले चोरी के आरोप में अहमदाबाद से आया हुआ 62 साल का तेलंगाना का मूल निवासी बाबू शेख पुलिस के हाथों पकड़ा गया था। अहमदाबाद से आया हुआ कथित आरोपी शहर के विभिन्न इलाकों में घूम घूम कर चद्दर इत्यादि बेचता था। 10 दिसंबर 2019 को जमाई इब्राहिम पठान के साथ बाबू शेख वड़ोदरा आया था। जहां दोनों ने सेंट्रल एसटी डिपो पर नाश्ता किया और उसके बाद साईकिल लेकर बाबू चद्दर बेचने चला गया।

छाणी में चद्दर बेच रहे बाबू शेख को फतेहगंज पुलिस थाने के सर्विलेंस स्टाफ ने tp13 इलाके में रहने वाले सतीश ठक्कर के घर में हुई चोरी मामले संदिग्ध आरोपी के रूप में डिटेईन किया था। आरोपी को पुलिस थाने ले जाकर उसे कंप्यूटर रूम में कुर्सी पर बेल्ट से बांध दिया गया और पुलिस कर्मचारियों ने आरोपी को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हुए थर्ड डिग्री टॉर्चर किया। हाथों के बीच पेन फंसा कर चोरी का जुर्म कुबूल कराने पुलिस ने कथित आरोपी पर जमकर हाथ साफ किया ।थर्ड डिग्री टॉर्चर सहन नहीं कर पाने से 62 साल के शख्स की मौत हो गई थी।

पुलिस कर्मचारी इतने पर ही नहीं रुके और बाबू शेख के शव को पीआई,पी एस आई और सर्विलांस स्टाफ के लोगों ने मिलकर ठिकाने लगा दिया था।
इन पुलिस कर्मचारियों ने तो शव को ठिकाने लगाकर सोच लिया होगा कि मामला खत्म हो गया लेकिन ऐसा नहीं था।

परिजनों ने बाबू शेख को ढूंढने की कवायद शुरू की और पुलिस शिकायत दर्ज कराई । मामले की जांच सयाजीगंज पुलिस थाने के एसीपी भेसानिया को सौंपी गई,लेकिन जांच में कोई ठोस हकीकत सामने नहीं आई । लेकिन परिजनों ने हार नहीं मानते हुए हाईकोर्ट में केस किया।जिसके बाद पुलिस कमिश्नर अनुपमसिंह गहलोत ने मामले की जांच एसीपी एस जी पाटील को सौंपी।ACP पाटील द्वारा मामले की तह तक तफ्तीश की गई, जिसमें तत्कालीन पीआई धर्मेंद्रसिंह गोहिल, पीएसआई दशरथ रबारी,लोक रक्षक पंकज मावजी,योगेंद्र सिंह, राजेश सवजी, हितेश शंभूभाई दोषी करार दिए गए है। इन सभी के खिलाफ आईपीसी की धारा 304, 201, 203, 204 और 34 के मुताबिक फतेहगज पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कर कानूनी कार्यवाही शुरू की गई है।

यहां गौरतलब यह भी है कि इस मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस कमिश्नर ने सभी पुलिस कर्मचारियों का तबादला कर दिया गया।राज्य गृह विभाग द्वारा किए गए तबादले में पीआई धर्मेंद्रसिंह गोहिल का तबादला अहमदाबाद में हुआ है। 6 पुलिस कर्मचारियों पर पुलिस द्वारा ही केस दर्ज किए जाने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close