5G टेक्नोलॉजी की ओर बढ़ते भारत के कदम

20-05-22

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने IIT मद्रास में 5G कॉल का सफल टेस्ट किया। उन्होंने 5G वॉइस और वीडियो कॉल किया। वैष्णव ने बताया कि खास बात यह है कि संपूर्ण एंड टू एंड नेटवर्क भारत में डिजाइन और विकसित किया गया है। केंद्रीय मंत्री 5G कॉल टेस्टिंग का एक वीडियो अपने कू औ ट्वीट अकाउंट पर भी शेयर किया।

इस मौके पर अश्विनी वैष्णव ने कहा कि IIT मद्रास की टीम पर हमें गर्व है जिसने 5G टेस्ट पैड विकसित किया। इससे पूरे 5G डेवलपमेंट इकोसिस्टम और हाइपरलूप इनिशिएटिव को बड़ा मौका मिलेगा। हाइपरलूप इनिशिएटिव को रेलवे पूरी तरह सपोर्ट करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के पहले 5G टेस्ट बेड का शुभारंभ मंगलवार को ही किया है। यह IIT मद्रास में है।

अश्विनी वैष्णव ने कहा कि इस वर्ष सितंबर-अक्टूबर तक भारत का खुद का 5जी इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार हो जाएगा। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) की तरफ से आयोजित एक कार्यक्रम में वैष्णव ने कहा कि भारत का स्वदेशी दूरसंचार ढांचा ‘बड़ी आधारभूत प्रौद्योगिकी प्रगति’ का दर्शाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Whatsapp