15 दिन में 15 देशों तक पहुंचा मंकीपॉक्स, मुंबई में आइसोलेशन वॉर्ड बना

24-05-22

तेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स वायरस महज 15 दिन में 15 देशों में पहुंच गई है। बेल्जियम और ब्रिटेन ने इसके मरीजों के लिए 21 दिन का क्वारैंटाइन जरूरी कर दिया है। WHO ने कहा है कि किसी देश में इस बीमारी का एक भी मामला खतरे की घंटी होगा। भारत में मंकीपॉक्स का कोई केस अब तक नहीं है, लेकिन मुंबई में संदिग्ध मरीजों के लिए 28 बेड का आइसोलेशन वॉर्ड बनाया गया है।

तेजी से फैल रहे मंकीपॉक्स वायरस को लेकर WHO चिंतित है।WHO के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड, पुर्तगाल, स्पेन, स्वीडन, यूके और यूएस में मंकीपॉक्स के मामले सामने आये हैं। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि मंकीपॉक्स के मामलें और बढ़ सकते हैं,जिस पर WHO नजर बनाये हुए हैं।

कैसे फैलता है ये वायरस ?
मंकीपॉक्स तब फैलता है जब कोई व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति, जानवर या वायरस से संक्रमित के संपर्क में आता है। वायरस त्वचा, रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट या आंख, नाक और मुंह के जरिए शरीर में प्रवेश कर सकता है। मानव-से-मानव में ये आमतौर पर रेस्पिरेटरी ड्रॉपलेट्स के जरिए ही फैलता है। पशु से इंसानों में ये काटने या खरोंच के फैल सकता है।मंकीपॉक्स सेक्स के दौरान भी एक इंसान से दूसरे में फैल सकता है और इसकी को लेकर WHO एक्सपर्ट ने एक चौंकाने वाला दावा कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Whatsapp