FeaturedHindiWomen

10 साल की बच्ची ने 1 घंटे में बनायीं 33 डिश

अपने हुनर से एशिया और इंडिया बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम किया दर्ज

File Photo

14 Oct. Vadodara: भारत में यूँ तो यंग टैलेंट की कोई कमी नहीं है। ऐसा ही एक अनोखा टैलेंट 10 साल की बच्ची ने दिखाया है। 10 साल की उम्र में अक्सर बच्चे पढ़ते हैं या तो खेलते हैं। मगर केरल के एनार्कुलम की सान्वी एम प्राजित ने अपने हुनर से एशिया और इंडिया बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज किया है। सान्वी ने 1 घंटे से भी कम समय में 33 डिशेज़ बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है।

सान्वी ने जो व्यंजन बनाये उसमें इडली, वेफल, कॉर्न, फिटर्स, मशरूम टिक्का, पनीर टिक्का, उत्तपम,एग बुल्स आई, सैंडविच, पापड़ी चात, चिकन रोस्ट, फ्राइड राइस, पैनकेक, अप्पन शामिल है। सान्वी एयर फाॅर्स विंग कमांडर प्राजित बाबू और मंजिमा की बेटी हैं। सान्वी की माँ भी कुकिंग में दिलचस्पी दिखती हैं। सान्वी की माँ एक कूकरी शो की फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं।

यूँ तो सान्वी का ‘सान्वी क्लाउड 9‘ नाम का एक यूट्यूब चैनल भी है , जिस पर वे कम समय में आसान रेसिपीज़ बनाना सिखाती हैं। विशाखापट्टनम के अपने घर में इन डिशेस को बनाते हुए ऑनलाइन वीडियो एशिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स अधिकारीयों ने देखा, जिसके बाद उनका नाम एशिया और इंडिया बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया। सान्वी की माँ मंजिमा ने बताया की सान्वी को कम उम्र से ही कुकिंग का शौक है। छोटी उम्र से ही सान्वी अपने पैरेंट्स और ग्रैंडपैरेन्ट्स के लिए कुकिंग करते हुए दिखती थीं।

कम उम्र में सान्वी ने अपने माता पिता का नाम ऊँचा किया है। और उनकी उम्र के बच्चों को सीख दी है की कोई कुछ भी कर सकता है अगर उसके अंदर कुछ कर जाने का जज्बा हो तो। उम्र तो मात्र अंक है। यंग टैलेंट यूँ ही देश में आगे बढ़ते रहना चाहिए और लोगों के लिए एक नयी सीख कायम करते रहना चाहिए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button