वड़ोदरा का चकली सर्कल छोटा कर देने से कबूतर बेघर

23-01-23

गुजरात के चकली सर्कल पर यहां से वहां उड़ने वाले सैकड़ों कबूतर इस सर्कल की पहचान है, लेकिन सबसे बड़े फ्लाईओवर के चक्कर में अब चकली सर्कल अपनी पहचान खो रहा है।

गुजरात के वडोदरा में इन दिनों अलग-अलग इलाके से लगातार अतिक्रमण हटाकर गरीबों को बेघर किया जा रहा है। कुछ ऐसा ही वडोदरा के चकली सर्कल पर भी देखने मिल रहा है ।शहर के चकली सर्कल पर कबूतरों द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाकर कबूतरों को भी कॉरपोरेशन ने बेघर कर दिया गया है, जिससे कबूतर बेमौत मारे जा रहे हैं। दरअसल गुजरात के सबसे लंबे ब्रिज निर्माण के चलते चकली सर्कल को छोटा कर दिया गया है। चकली सर्कल पर सालों से सैकड़ों की संख्या में कबूतरों का डेरा है।सर्कल छोटा हो जाने से अब कबूतर सड़क पर बैठने के लिए मजबूर है और सड़क पर लगातार आती-जाती गाड़ियों की चपेट में आकर कबूतरों की मौत तक हो रही है, ऐसे ही कबूतरों के शवों के ढेर चकली सर्कल पर ट्रैफिक पॉइंट के पास देखने मिलते हैं।वड़ोदरा में पर्यावरण और पशु पक्षियों को बचाने के लिए हमेशा ही आवाज उठाई जाती है लेकिन क्या रोजाना मर रहे इन कबूतरों के लिए भी कोई आवाज उठाएगा!!

Whatsapp