नागालैंड से किसी महिला का पहली बार राज्यसभा में प्रवेश

Image Source: Twitter

22 March 2022

नागालैंड में पहली बार भाजपा को महिला राज्यसभा सांसद मिली है। एस फांगनोन कोन्याक को राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुना गया है। उनके खिलाफ किसी ने नामांकन नहीं किया था। फांगनोन ने सोमवार को ही नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो की मौजूदगी में अपना पर्चा दाखिल किया था। वह नागालैंड में भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं। 31 मार्च को चुनााव होना था लेकिन नामांकन की तारीख खत्म होने तक कोई और नामांकन नहीं आया। ऐसे में फांगनोन कोन्याक को निर्विरोध विजेता घोषित कर दिया गया।

बता दें कि राज्यसभा की 13 सीटों पर 31 मार्च को चुनाव कराए जाएंगे। इसमें से पांच पंजाब की, केरल की तीन, असम की दो और हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा की एक-एक सीट शामिल हैं। अप्रैल 2022 में 13 राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इसमें कांग्रेस के राज्यसभा सांसद एके एंटनी भी शामिल हैं।

नगालैंड में अब चुनाव नहीं होगा क्योंकि फांगनोन कोन्याक निर्विरोध चुन ली गई हैं। यहां एनडीपीपी के साथ भाजपा के पास कुल 35 विधायक थे। नागालैंड में विधानसभा की कुल 60 सीटें हैं। नगा पीपल्स फ्रंट के पास 25 सदस्य हैं। नगा पीपल्स फ्रंट ने बैठक करके इस बात पर मंथन किया था कि कोन्याक को समर्थन देना है या फिर अपना प्रत्याशी उतारन है लेकिन पार्टी में कोई सहमति नहीं बन पाई।

1963 में नागालैंड अस्तित्व में आया था और उसके बाद से आज तक कोई महिला राज्यसभा सांसद यहां से नहीं बनी थी। एक महिला सांसद रानो एम शाइजा बनी थीं। वह निर्दलीय प्रत्याशी थीं जो कि लोकसभा के लिए चुनी गई थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Whatsapp