देश की महिला पहलवान भी #metoo की शिकार

19-01-23

भारतीय पहलवान लगातार दूसरे दिन भी जंतर-मंतर पर धरना दे रहे है। विनेश फोगाट और साक्षी मलिक ने बुधवार को रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के प्रेसिडेंट बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि कोच भी सालों से महिला खिलाड़ियों का यौन शोषण कर रहे हैं। खेल मंत्रालय ने WFI से 72 घंटे के अंदर जवाब मांगा है।

WFI चीफ और सांसद बृजभूषण ने खेल मंत्री को फोन कर सफाई दी। उन्होंने कल कहा था कि, एक भी आरोप सही निकले तो फांसी चढ़ा देना। उन्होंने कहा, “पहलवानी में सबसे बेहतर परफॉर्मेंस की उम्र 22 से 28 के बीच होती है। प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ी ओलिंपिक मेडल नहीं जीत सकते। यह वजह गुस्से में तब्दील हो रही है और इसीलिए वो प्रोटेस्ट कर रहे हैं।”

Whatsapp