दिल्ली MCD चुनाव में ट्रांसजेंडर प्रत्याशी बनी टेंशन दिग्गज नेताओं के लिए बढ़ी मुश्किले,

29-11-2022 , Tuesday

दिल्ली महानगर पालिका के चुनाव को लेकर सभी पार्टियां जोर शोर से चुनाव प्रचार में जुटी हैं ।7 दिसंबर को परिणाम घोषित होंगे। यहां पर उल्लेखनीय है कि सुल्तानपुरी क्षेत्र से ट्रांसजेंडर उम्मीदवार बॉबी बाकी उम्मीदवारों के लिए चुनौती बन रहे है।

दिल्ली एमसीडी के चुनाव दिग्गज नेताओं के लिए चिंता बन रहे है,वही भारतीय जनता पार्टी के लिए चुनौती है ,ट्रांसजेंडर उम्मीदवार बॉबी। दिल्ली नगर निगम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस और आप पार्टी के उम्मीदवारों का चुनाव प्रचार जोर शोर से चल रहा है ।चुनावी जंग में पूर्व विधायकों के बेटे मैदान में है। मेयर ,विपक्ष नेता, मुख्य सचिव ,जैसे नेताओं के लिए जैसे यह चुनाव किसी परीक्षा से कम नहीं है। 7 दिसंबर को एमसीडी के चुनाव का परिणाम घोषित होगा। यहां यह उल्लेखनीय है कि चांदनी चौक वोर्ड के परिसीमन में हुए बदलाव के चलते समीकरण भी काफी हद तक बदल गए हैं ।

दिल्ली के सुल्तानपुरी के वार्ड नंबर 43 पर भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार एकता, कांग्रेस के उम्मीदवार वरुण ढाका, और बीएसपी की सुनैना के लिए आप पार्टी के ट्रांसजेंडर उम्मीदवार बॉबि चुनौती बन रहे हैं। वह कई सालों से सामाजिक कार्य में निमग्न रहे हैं। सन 2017 में ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक के टिकट पर चुनाव लड़े थे। इस बार के चुनाव में इस ट्रांसजेंडर उम्मीदवार ने बड़े-बड़े दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा को जैसे दांव पर लगा दिया है। वार्ड नंबर 77 दक्षिण दिल्ली के हरी नगर से भाजपा के टिकट पर पूर्व महापौर श्याम शर्मा मैदान में है तो दक्षिण दिल्ली से ही भाजपा की प्रत्याशी उप महापौर शशि प्रभा सोलंकी मैदान में है।

गुजरात विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली एमसीडी के चुनाव भी सभी पार्टियों के लिए चुनौतीपूर्ण है। ऐसे में ट्रांसजेंडर उम्मीदवार के मैदान में उतरने से चुनौती बढ़ी है।

Whatsapp